Poem on Corruption in Hindi

8+ भ्रष्टाचार पर सर्वश्रेष्ठ कविताएं -Best Poem on Corruption in Hindi

“भ्रष्टाचार” वर्तमान समय की बहुत बड़ी समस्या बन चुकी है। आज हम आपके लिए भ्रष्टाचार पर कविता (Poem on Corruption in Hindi) लेकर के आए हैं। जिसमें हम आपको भ्रष्ट लोगों के बारे में कविता के माध्यम से बताएंगे। भ्रष्टाचार से आप और मैं नहीं बल्कि यह पूरा संसार है परेशान है। भ्रष्टाचार को जड़ से खत्म करने के लिए आप और हम को एक दूसरे का साथ देना होगा। भ्रष्टाचार को खत्म करना हमारे ही हाथ में है। यदि हम भ्रष्टाचार को खत्म करने की ठान ले तो भ्रष्टाचार को आसानी से खत्म किया जा सकता है। चलिए दोस्तों शुरू करते हैं भ्रष्टाचार पर कविता”

1. भ्रष्टाचार पर सर्वश्रेष्ठ कविताएं – Poem on Corruption in Hindi

(भ्रष्टाचार मिटाना है)

भ्रष्टाचार मिटाना है देश को बचाना है।
भ्रष्टाचार है देश के दिमक।

दीमक रूपी भ्रष्टाचार को मिटायेंगे देश को बचाएंगे।

भ्रष्टाचारी है देश के चोर।

रिश्वत हम नहीं देंगे रिश्वत हम नहीं लेंगे।

रिश्वतखोर को नहीं छोड़ेंगे देश से बाहर निकालेंगे।

देश को लूटने नहीं देंगे भ्रष्टाचार से मुक्त करेंगे।

पैसे के लालच में नहीं आएंगे।

ईमानदारी से काम करेंगे।

सबको यह पाठ पढ़ाएंगे भ्रष्टाचार को मिटायेंगे।

भ्रष्टाचार मुक्त देश हो हमारा।

                                                                                                                             _Pooja Mahawar

2. भ्रष्टाचार पर बेहतरीन कविता -Best Poem on Corruption in Hindi

Poem on Corruption in Hindi
Poem on Corruption in Hindi

(भ्रष्टाचार है देश की दिमाग)

भ्रष्टाचार है देश की दीमक।

भ्रष्टाचार को नहीं बढ़ने देंगे।

बहुत हुआ अब भ्रष्टाचार।

भ्रष्टाचार को खत्म करेंगे देश को बचाएंगे।

पुलिस वालों को यह पाठ पढ़ाएंगे।

देश को भ्रष्टाचार मुक्त बनाएंगे।

भ्रष्टाचार है देश की दीमक।

इसको नहीं हम बढ़ने देंगे।

गांव से लेकर शहर तक भ्रष्टाचार मुक्त हो देश हमारा।

हॉस्पिटल से लेकर पुलिस स्टेशन भ्रष्टाचार मुक्त हो शहर हमारा।

                                                                                                                                 _Pooja Mahawar

यह भी जरूर पढ़ें –   5+ दादा और दादी पर कविता- Best Poem On Dada Dadi In Hindi
                               समय पर कविताएँ | Best Poem On Time In Hindi
                                Poem On Moon in Hindi

आज हमने भ्रष्टाचार पर कविता के माध्यम से जाना कि भ्रष्टाचार एक दीमक के समान है। जो कि हमारे देश को धीरे धीरे अंदर से खोखला बनाए जा रहा है। हमें भ्रष्टाचार करने वाले लोगों से इस देश को बचाना है। भ्रष्टाचार इस देश के नींव को कमजोर कर देगा। दोस्तों आपो हमारी Poem on Corruption in Hindi कैसी लगी हमे अपने विचार जरूर बताये| धन्येवाद!

Pooja Mahawar

पूजा महावर को हिंदी ब्लोग्स लिखना पसंद है | इनको हिंदी कबिता लिखने में बहुत रुचि है यह 6 वर्षो से कविता लिख रही है

View all posts by Pooja Mahawar →

Leave a Reply

Your email address will not be published.