Vachan Kise Kahate Hain

वचन किसे कहते है, परिभाषा, भेद एवं उदहारण – Vachan Kise Kahate Hain

Vachan Kise Kahate Hain – हेलो दोस्तों! आज हम आप सभी के लिए वचन के विषय में जानकारी लेकर आए हैं। वचन किसे कहते हैं? वचन की परिभाषा, भेद एवं उदाहरण क्या है? यह जानेंगे। हिंदी व्याकरण में संज्ञा, सर्वनाम, विशेषण, क्रिया आदि ऐसे कई विषय है जो अपना महत्व रखते हैं। उसी तरह वचन का भी अपना एक स्थान है। वैसे तो वचन का अर्थ कथन यह बोली से है लेकिन यहां वचन का अभिप्राय संख्या से है।

हिंदी भाषा में वचन दो प्रकार के होते हैं। एकवचन और बहुवचन।

संस्कृत भाषा में वचन तीन प्रकार के होते हैं। एकवचन द्विवचन और बहुवचन।

वचन की परिभाषा – ( Vachan Kise Kahate Hain in Hindi )

संज्ञा का वह रूप जिससे किसी व्यक्ति या वस्तु के एक से अधिक होने का बोध हो वह वचन कहलाता है। अर्थात वह शब्द जिससे किसी वस्तु या व्यक्ति की संख्या का बोध कराने का कार्य किया जाए उसे वचन कहते हैं।

सरल शब्दों में – वह शब्द जिससे किसी वस्तु के एक या अनेक होने का पता चले उसे वचन कहते हैं।

उदहारण –

  • लड़की विद्यालय जा रही है |
  • लडकीयाँ विद्यालय जा रही है |
  • बच्चे खेल रहे है|
  • मोर नाच रहा है|

वचन के प्रकार ( वचन के भेद ) – Vachan Ke Prakar

वचन दो प्रकार के होते है –

  • एकवचन
  • बहुवचन

एकवचन किसे कहते हैं? – EK Vachan Kise Kahate Hain 

संज्ञा का वह रूप जिसके द्वारा किसी व्यक्ति या वास्तु , स्थान आदि का एक होने का बोध हो उसे एकवचन कहते हैं |

जैसे – लड़का, लड़की, पुस्तक आदि|

बहुवचन किसे कहते हैं? – Bahu Vachan Kise Kahate Hain

बहुवचन संज्ञा के उस रूप को कहते है | जिसमे किसी व्यक्ति या वास्तु के एक से अधिक होने का बोध हो उसे बहुवचन कहते हैं|

जैसे – लड़के, लड़कीयाँ, पुस्तके आदि|

बहुत से पूज्य एवं उच्च पदाधिकारियों को आदर देने के लिए एकवचन के संज्ञा शब्द बहुवचन में प्रयुक्त होते हैं, जैसे- 

  • पिताजी कल आ रहे हैं।
  • कल राष्ट्रपति भाषण देंगे।
  • गांधी जी भारत के राष्ट्रपिता थे।

सदैव एकवचन में प्रयुक्त होने वाले शब्द – पानी, रात्रि, आकाश, वर्षा, करुणा, दया आदि।

सदैव बहुवचन में प्रयुक्त होने वाले शब्द – प्राण, होश, दर्शन, आंसू, दाम, लोग, समाचार आदि।

एकवचन से बहुवचन बनाने के नियम Vachan Kise Kahate Hain

  1. अकारान्त पुल्लिंग शब्दों के बहुवचन बनाने के लिए अंत में ‘आ’ स्थान पर ‘ए’ लगा दिया जाता है, जैसे-
एकवचनबहुवचन
लड़कालड़के
कमराकमरे
  1. अकारान्त स्त्रीलिंग शब्दों का बहुवचन बनाने के लिए अंत में ‘अ’ के स्थान पर ‘ऐ’ कर देते हैं, जैसे-
एकवचनबहुवचन
रातरातें
झीलझीलें
  1. अकारान्त, उकरान्त और अकारान्त स्त्रीलिंग एकवचन शब्दों को बहुवचन बनाने के लिए भी अंत में ‘एँ’ लगा देते हैं, जैसे-
एकवचनबहुवचन
मालामालाएँ
धातुधातुएँ
  1. इकारान्ता स्त्रीलिंग में एकवचन शब्दों का बहुवचन बनाने के लिए उसके अंत में ‘याँ’ लगा देते हैं, जैसे-
एकवचनबहुवचन
शक्तिशक्तियाँ
राशिराशियाँ
  1. ईकारान्त स्त्रीलिंग एकवचन शब्दों का बहुवचन बनाने के लिए अंतिम ‘ई’ का ह्रस्व करके ‘याँ’ जोड़ देते हैं, जैसे-
एकवचनबहुवचन
नदीनदियाँ
सखीसखिया

यह भी जाने – Vakya Kise Kahate Hain

Vachan Badlo in Hindi | वचन बदलो

 

एकवचनबहुवचन
लड़का लड़के 
लड़की लड़कियां 
किताब किताबे 
मछली मछलियां 
पुस्तक पुस्तके 
पौधा पौधे 
कपडा कपडे 
गमला गमले 
बच्चा बच्चे 
घोडा घोड़े 
अध्यापिका अध्यापिकाएँ
अबलाअबलाएँ

दोस्तों आपको हमारे द्वारा लिखा गया Vachan Kise Kahate Hain आपको अच्छा लगा होगा| आप हमे अपने विचार जरूर बताये|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *